पटवारी भर्ती परीक्षा: करवाचौथ के चलते महिला अभ्यर्थियों की परीक्षा 23 को

पटवारी भर्ती परीक्षा: करवाचौथ के चलते महिला अभ्यर्थियों की परीक्षा 23 को

एसपी और कलेक्टर संभालेंगे व्यवस्था

 जयपुर। प्रदेश में 23 और 24 अक्टूबर को होने वाली पटवारी भर्ती परीक्षा की जिम्मेदारी जिले के कलक्टर और एसपी खुद संभालेंगे। इस संबंध में मुख्य सचिव निरंजन कुमार आर्य ने निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव ने सोमवार को सचिवालय में पटवारी भर्ती परीक्षा की तैयारियों की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता और लापरवाही नहीं होनी चाहिए। मुख्य सचिव ने रीट परीक्षा की ही तरह इस परीक्षा में भी बेहतरीन प्रबंधन के साथ काम करने के लिए कहा है। आर्य ने बताया कि राज्य में 15 लाख से अधिक विद्यार्थी इस परीक्षा में सम्मिलित होंगे। इन विद्यार्थियों को परीक्षा केन्द्र तक पहुंचने में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं हो और परीक्षा निर्बाध पूरी हो इसकी जिम्मेदारी प्रशासन और पुलिस की है। परीक्षार्थियों को दूसरे जिलों में परीक्षा केन्द्र तक पहुंचने के लिए नि:शुल्क यातायात की व्यवस्था के लिए जिला कलेक्टर पर्याप्त बसों की व्यवस्था करेंगे। उन्होंने पेपर आउट होने या नकल की किसी भी घटना को रोकने के लिए परीक्षा से पहले और परीक्षा के दौरान सभी आवश्यक उपाय करने को कहा है।


चार पारियों में होगी परीक्षा
कर्मचारी चयन बोर्ड के अध्यक्ष हरि प्रसाद शर्मा ने बताया कि परीक्षा दो दिन में चार पारियों में सम्पन्न होगी। उन्होंने परीक्षा के सफल क्रियान्वयन के लिए प्रशासन और पुलिस से अतिरिक्त सतर्कता के साथ काम करने की अपील की। उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों की धरपकड़ पहले ही की जानी चाहिए। संवेदनशील स्थानों पर पुलिस का अतिरिक्त जाप्ता लगाया जाए और निजी स्कूलों वाले केन्द्रों की निगरानी में अतिरिक्त सतर्कता बरती जाए।

नजदीक परीक्षा केन्द्र में महिला परीक्षार्थी देंगी परीक्षा
राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा कराई जा रही पटवारी परीक्षा की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। बोर्ड के अध्यक्ष हरिप्रसाद शर्मा ने बताया कि 23 और 24 अक्टूबर को होने वाली परीक्षा में करीब 15 लाख 63 हजार से ज्यादा परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। इसमें महिला अभ्यर्थियों की संख्या 5 लाख से ज्यादा है। प्रत्येक पारी की परीक्षा में करीब चार लाख परीक्षार्थी शामिल होंगे। बोर्ड ने महिला अभ्यर्थियों को करवा चौथ 24 अक्टूबर को होने के चलते बड़ी राहत दी गई है। सभी महिला अभ्यर्थियों की परीक्षा 23 अक्टूबर को ही कराई जाएगी। सिर्फ अलवर और धौलपुर के अभ्यर्थियों की परीक्षा 24 अक्टूबर होगी, क्योंकि वहां 23 अक्टूबर को उप चुनाव होने हैं। साथ ही इन जिलों की महिला अभ्यर्थियों को उनके गृह जिले या नजदीक में ही परीक्षा केन्द्र दिया गया है।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News