बीमार अवस्था में मिली बाघिन एसटी-2

बाघिन के पीछे के पैर कमजोर हो गए है

बीमार अवस्था में मिली बाघिन एसटी-2

इस दौरान देखने में आया कि करीब 3 घंटे से उसने कोई मूवमेंट नहीं किया। सूचना पाकर वन संरक्षक एवं क्षेत्र निदेशक आरएन मीणा और उपवन संरक्षक मौके पर पहुंचे।

जयपुर। सरिस्का टाइगर रिजर्व में रहवास कर रही बाघिन एसटी-2 को कूंचा राजगढ़ रेंज वन मण्डल, अलवर वन क्षेत्र में बीमार अवस्था में मिली। इस दौरान देखने में आया कि करीब 3 घंटे से उसने कोई मूवमेंट नहीं किया। सूचना पाकर वन संरक्षक एवं क्षेत्र निदेशक आरएन मीणा और उपवन संरक्षक मौके पर पहुंचे। बाघिन की स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों के दल को बुलाया गया। सरिस्का टाइगर रिजर्व के उप वन संरक्षक डीपी जागावत ने बताया कि वृद्धावस्था के चलते बाघिन के पीछे के पैर कमजोर हो गए है। 

आगे के पैरों में भी घाव नजर आ रहे हैं। ऐसे में करीबन 12 बजकर 39 मिनट पर बाघिन को ट्रेंकुलाइज कर सरिस्का में नया पानी स्थित एनक्लोजर में लाया गया। बाघिन करीब 17 साल की है। गौरतलब है कि सरिस्का टाइगर रिजर्व में इस समय 7 बाघ, 10 बाघिन और 7 शावक हैं। एसटी-13 पिछले काफी समय से मिसिंग चल रहा है। सरिस्का फाउंडेशन के सचिव दिनेश दुर्रानी का कहना है कि बाघिन एसटी-2 को सरिस्का की राजमाता कहा जाता है। 

Post Comment

Comment List

Latest News

फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप: झारखण्ड की खिलाड़ी अस्टम उरांव भारत की कैप्टन फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप: झारखण्ड की खिलाड़ी अस्टम उरांव भारत की कैप्टन
साल 2020 में लॉकडाउन के दौरान जब पूरा देश बंद था। उस दौरान 2021 में होने वाले फीफा अंडर-17 के...
अपने कर्तव्यो को ईमानदारी से निभाने वाले अधिकारियों के खिलाफ सरकार कर रही हैं नाइंसाफी : रामलाल
इन्वेस्ट राजस्थान समिट की सभी तैयारियां पूरी, मित्तल, बिड़ला सहित जाने माने उद्यमी होंगे शामिल
कांग्रेसजनों ने गोकुल भाई भट्ट को अर्पित की पुष्पांजलि
सिर पर पत्थर से वार कर युवक की हत्या
पत्नी और नाबालिग बच्चों की जिम्मेदारी से नहीं भाग सकता कोई व्यक्ति : सुप्रीम कोर्ट
भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई सोनिया गांधी, राहुल ने कहा, यात्रा को मिलेगी मजबूती