दशहरा मेला उद्घाटन में शामिल नहीं हुए एक भी विधायक

कोटा उत्तर की महापौर को मेला समिति का अध्यक्ष बनाया गया है

दशहरा मेला उद्घाटन में शामिल नहीं हुए एक भी विधायक

दूसरी तरफ कांग्रेस के विधायक कांग्रेस सरकार की कुर्सी को बचाए रखने के चक्कर में समारोह में शामिल नहीं हुए। आखिर अमित धारीवाल को समारोह का मुख्य अतिथि बनाया गया। उनके द्वारा मेले का ध्वजारोहण करने के बाद यूडीएच मंत्री ने वर्चुअली मेले के उद्घाटन की घोषणा की।

कोटा। 129वें राष्ट्रीय दशहरा मेले का सोमवार को विधिवत उद्घाटन तो हो गया लेकिन इसमें कुर्सी का खेल ऐसा चला कि ना तो समारोह में दक्षिण महापौर शामिल हुए और ना ही कोई विधायक। इधर पार्षद भी उत्तर-दक्षिण की धड़ेबंदी में फंस गए हैं। दरअसल मेला समिति का अध्यक्ष उत्तर महापौर मंजू मेहरा को बनाए जाने से दक्षिण महापौर खासे खिन्न हैं। उन्हें अपने मनमाफिक कुर्सी की उम्मीद थी जो पूरी नहीं हुई। इसी प्रकार भाजपा के सभी विधायक समारोह में आमंत्रित  थे लेकिन कोई भी समारोह में शामिल नहीं हुआ। इन्हें भी विपक्षी खेमें में उचित कुर्सी नहीं मिलने का अंदेशा था। दूसरी तरफ कांग्रेस के विधायक कांग्रेस सरकार की कुर्सी को बचाए रखने के चक्कर में समारोह में शामिल नहीं हुए। आखिर अमित धारीवाल को समारोह का मुख्य अतिथि बनाया गया। उनके द्वारा मेले का ध्वजारोहण करने के बाद यूडीएच मंत्री ने वर्चुअली मेले के उद्घाटन की घोषणा की।

यह है मामला 
नगर निगम कोटा उत्तर व कोटा दक्षिण की ओर से मेले का आयोजन किया जा रहा है। मेले के लिए राज्य सरकार ने एक मेला समिति का भी गठन किया है। जिसमें कोटा उत्तर की महापौर को मेला समिति का अध्यक्ष बनाया गया है जबकि कोटा दक्षिण महापौर राजीव अग्रवाल को समिति में सदस्य बनाया है। मेले का आयोजन कोटा दक्षिण निगम में हो रहा है और समिति का अध्यक्ष कोटा उत्तर महापौर को बनाया गया है। इस कारण से शुरुआत से ही कोटा दक्षिण महापौर की नाराजगी रही है। लेकिन वे मेला समिति की बैठकों में शुरुआत में तो शामिल हुए।  उसके  बाद उन्होंने समिति की बैठकों में भी जाना बंद कर दिया। वहीं सोमवार को आशापुरा माताजी मंदिर में दुर्गा पूजन के समय और शाम को मेला उद्घाटन के समय भी कोटा दक्षिण महापौर राजीव अग्रवाल शामिल नहीं हुए। एनवक्त तक उनका इंतजार किया गया लेकिन वे नहीं आए। उन्होंने मेले से दूरी बनाए रखी।  दोनों नगर निगमों के 174 पार्षदों में से आधे पार्षद भी कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। हालांकि मेला समिति की अध्यक्ष मंजू मेहरा का कहना है कि वे हर कार्यक्रम व बैठक से पहले उन्हें फोन करती हैं। उन्हें पूरा सम्मान भी दिया जा रहा है। इसके बाद भी वे न जाने क्यों नाराज हैं। बैठकों में भी नहीं आ रहे अब पूजन व उद्घाटन में भी नहीं आए। इसका जवाब वे ही दे पाएंगे। 

फोन ही रिसीव नहीं किया
इधर महापौर राजीव अग्रवाल से बात करना चाही तो उन्होंने फोन ही रिसीव नहीं किया। जबकि सूत्रों के अनुसार वे कोटा में हैं और सुबह-शाम को कार्यक्रम स्थल के आस-पास ही थे लेकिन कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। इधर नगर निगम की ओर से मेला उद्घाटन में मुख्य अतिथि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को बनाया गया था। लेकिन एक दिन पहले रात को अचानक उन्हें हरिद्वार जाना पड़ गया था। इस कारण वे भी शामिल नहीं हो सके। वहीं विधायक भरत सिंह, राम नारायण मीणा, मदन दिलावर, संदीप शर्मा व कल्पना देवी भी कार्यक्रम में शामिल नहीं हुई।

Read More कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा देश को तोड़ने का प्रयास : तिवाड़ी

सुरक्षा जांच की
मेला स्थल पर सुरक्षा की दृष्टि से पर्याप्त संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात था। उप अधीक्षक अंकित जैन के नेतृत्व में पुलिस कर्मी तैनात थे। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से कार्यक्रम स्थल पर डॉग स्क्वायड से जांच की गई। 

सीएडी चौराहे को भी सजाया
इधर मेले के लिए मेला स्थल के साथ ही नगर निगम भवन और सीएडी सर्किल तक को सजाया गया है। आकर्षक विद्युत रोशनी से चौराहा व मेला परिसर रोशन हुआ। 

देर से पहुंचे पार्षदों को कुर्सी नहीं मिलने पर किया हंगामा
इधर मेला उद्घाटन के दौरान कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे कांग्रेस के पार्षद विष्णु मेवाड़ा समेत कई को बैठने की जगह नहीं मिलीे तो उन्होंने हंगामा कर दिया। उन्होंने कहा कि उनके लिए कार्यक्रम स्थल पर बैठने की व्यवस्था नहीं की गई है। यह देखकर वहां मौजूद अधिकारी से लेकर मेला समिति सदस्य और पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे। उन्होंने समझाइश की और तुरंत सोफे मंगवाए। जिसके बाद उन्हें बैठाया गया।

Read More राजस्थान पुलिस सेवा (दूरसंचार) का कैडर रिव्यू, 94 नवीन पदों के सृजन को मंजूरी

Post Comment

Comment List

Latest News

रीजनल कॉलेज फॉर एजूकेशन रिसर्च एंड टेक्नोलॉजी में मोटिवेशनल प्रोग्राम का आयोजन रीजनल कॉलेज फॉर एजूकेशन रिसर्च एंड टेक्नोलॉजी में मोटिवेशनल प्रोग्राम का आयोजन
संस्था के वाइस चेयरमैन डॉ. अंशु सुराना ने बताया कि कॉलेज में समय समय पर कैरियर गाइडेंस के कार्यक्रम आयोजित...
पायलट और मैं पार्टी एसेट, हमारे और नेता भी एसेट: गहलोत
आईएफएफआई जूरी प्रमुख की टिप्पणी कश्मीरी हिंदुओं पर हुए अत्याचारों की भयावहता का अपमान - रोड्रिग्स
30 लाख कीमत का 287 किलो गांजा बरामद, 6 अभियुक्त गिरफ्तार
राहुल, सोनिया की जुबान बोल रहे हैं खडग़े : भाजपा
बेकाबू मेटाडोर कार में घुसी, दो की मौत, तीन घायल
हिमालय से कोटा पहुंचे ब्लैक काइट शिकारी पक्षी