अभी सामान्य वायरस बता रहे, लेकिन राजस्थान अलर्ट

चीन में बच्चों में फैल रहा रहस्मयी निमोनिया

अभी सामान्य वायरस बता रहे, लेकिन राजस्थान अलर्ट

प्रदेश में बीमारी को लेकर आज एसीएस लेंगी बैठक, तैयारियों की समीक्षा भी करेंगी 

जयपुर। चीन के उत्तर पूर्वी इलाके में बच्चों में रहस्मयी निमोनिया तेजी से फैलने से देश और प्रदेश अलर्ट हो गए हैं। हालांकि चीन, डब्ल्यूएचओ और विशेष विशेषज्ञ फिलहाल इसे सामान्य वायरस से होने वाला निमोनिया करार दे रहे हैं। स्वास्थ्य एजेंसियां इस पर नजरें बनाएं हुए हैं कि कोरोना जैसा कोई नया वायरस तो बच्चों को तेजी से वहां बीमार नहीं कर रहा है, लेकिन अभी तक इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है। वहीं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के इसे लेकर आए पत्र के बाद राजस्थान पूरी तरह से अलर्ट हो गया है। विभाग ने बच्चों में सांस संबंधित बीमारियों को लेकर अस्पतालों को पूरी तरह से तैयार रहने, समुचित आॅक्सीजन, दवाइयां उपलब्ध रखने के लिए निर्देशित किया है। इसे लेकर मंगलवार को चिकित्सा विभाग की एसीएस शुभ्रा सिंह की अध्यक्षता में मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों, विभाग के आला अधिकारियों के साथ बैठक भी बुलाई है। इसमें बीमारी और तैयारियों को लेकर चर्चा होगी।  

अस्पतालों में कल मॉकड्रिल भी होगा
चिकित्सा विभाग के जनस्वास्थ्य निदेशक डॉ. रवि प्रकाश ने बीमारी को गंभीरता से लेते हुए सभी मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पतालों, प्रमुख चिकित्सा अधिकारियों को पत्र लिखकर तैयारियों की स्थिति परखने के लिए बुधवार को अस्पतालों में आकस्मिक मॉक ड्रिल कराने के आदेश दिए हैं। वहीं अस्पतालों में श्वास संबंधित, खांसी-जुकाम और एसएआरआई मरीजों की खास मॉनीटरिंग, कोविड-19 रिवाइज्ड सर्वलैन्स गाइडलाइन की पालना करने, अस्पतालों में मानव संसाधन, दवाइयां, आॅक्सीजन इत्यादि सप्लाई की मॉनीटरिंग, सुपरविजन सुनिश्चित करने के लिए कहा है। 
रहस्मयी निमोनिया के लक्षण 
चीन के उत्तर पूर्वी इलाके में फैले इस निमोनिया में बच्चों में खांसी होना या ना होना, तेज बुखार, जुकाम, फेफड़ों में सूजन और सांस लेने में परेशानी जैसे लक्षण सामने आए हैं।

Post Comment

Comment List

Latest News

निकायों के निर्माण कार्यों में एम-सैंड का उपयोग अनिवार्य, प्रोजेक्ट्स में न्यूनतम 25 प्रतिशत एम-सैंड लेंगे काम निकायों के निर्माण कार्यों में एम-सैंड का उपयोग अनिवार्य, प्रोजेक्ट्स में न्यूनतम 25 प्रतिशत एम-सैंड लेंगे काम
नगरीय विकास एवं आवासन विभाग ने एक आदेश जारी किया है, जिसमें निर्माण कार्यों में खनिज बजरी के विकल्प के...
जल जीवन मिशन कामों की कल होगी समीक्षा, प्रति ग्राम पंचायत दो-दो नल जल मित्र के प्रस्ताव होंगे पारित
राज्य सरकार एवं हुडको के मध्य हुआ एमओयू
शंभू बॉर्डर किसान आंदोलन: बैरिकेडिंग पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया स्वतंत्र समिति बनाने का सुझाव
राजस्थान को मिला 9959 करोड़ रुपए का बजट
कस्टम ड्यूटी में कटौती के बाद सोना-चांदी की खरीदारी में वृद्धि
AAP ने लगाए आरोप- केंद्र सरकार ने बजट में दिल्ली और पंजाब के साथ किया सौतेला व्यवहार