हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से युवक गंभीर रूप से झुलसा , जयपुर किया रैफर

बारहवें के कार्यक्रम के लिए छत पर लगा रहा था टेंट , मोहल्ले में मचा हड़कंप , धमाके के साथ घर में लगे कई उपकरण जले

हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से युवक गंभीर रूप से झुलसा , जयपुर किया रैफर

कुन्हाड़ी थाना क्षेत्र में शनिवार को हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक युवक गंभीर रूप से झुलस गया। परिजनों ने एमबीएस अस्पताल में भर्ती कराया। हालत गंभीर होने पर चिकित्सकों ने तुरंत जयपुर के लिए रेफर कर दिया है।

कोटा। शहर के कुन्हाड़ी थाना क्षेत्र में शनिवार को हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक युवक गंभीर रूप से झुलस गया। परिजनों ने युवक को तुरंत एमबीएस अस्पताल में  भर्ती कराया।  वहां उसकी हालत गंभीर होने पर चिकित्सकों ने तुरंत  जयपुर के लिए रेफर कर दिया है। युवक हादसे में 70%  से अधिक झुलस गया है।

 पुलिस निरीक्षक गंगा सहाय शर्मा ने बताया  थाना क्षेत्र के गांव बजरंगपुरा निवासी गोपाल उम्र 40 साल पुत्र रूप सिंह सुबह 10:00 बजे घर में मां के 12वें कार्यक्रम  की तैयारी के लिए छत पर टेंट लगा रहा था। छत के ऊपर से गुजर रही हाई टेंशन लाइन से टेंट का पाइप टच हो गया। इससे टेंट में करंट दौड़ गया और  वह उसकी चपेट में आ गया। टेंट में आग लग गई जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल अवस्था में परिजनों ने एमबीबीएस अस्पताल में भर्ती करवाया ।जहां हालत गंभीर होने पर उसे तुरंत जयपुर के लिए रेफर कर दिया गया है ।हादसे में धमाके के साथ घर में लगे विद्युत के कई उपकरण भी जल गए ।सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया ।
 

Post Comment

Comment List

Latest News

जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने महात्मा गांधी जन भागीदारी विकास योजना में 33 जिलों को 20 करोड़ रुपए का...
संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को
NDA Government राजस्थान पर मेहरबान, केंद्र ने राज्य को जारी किए 8421.38 करोड़
बाड़मेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस रेलसेवा एलएचबी रैक से संचालित होगी
राज्यवर्धन ने सूचना सहायक पदों की संख्या बढ़ाई
कांग्रेस ने आंध्रप्रदेश के विशेष दर्जे पर मोदी से मांगा स्पष्टीकरण
सीएम को लिखा पत्र : निकायों का पुनः परिसीमांकन एवं वार्डों की संख्या के निर्धारण का कार्य पारदर्शी तरीके से हो: राजेंद्र राठौड़