सैलानियों को जल्द मिलेगी तीसरी लेपर्ड सफारी की सौगात

गुलाबी नगरी में पर्यटक जंगल सफारी का उठा रहे लुत्फ

सैलानियों को जल्द मिलेगी तीसरी लेपर्ड सफारी की सौगात

गुलाबी नगरी में पर्यटक महल, संग्रहालय और स्मारकों को देखने के साथ ही जंगल सफारी का लुत्फ भी उठा रहे हैं।

जयपुर। गुलाबी नगरी में पर्यटक महल, संग्रहालय और स्मारकों को देखने के साथ ही जंगल सफारी का लुत्फ भी उठा रहे हैं। पर्यटकों के पास यहां सफारी के लिए झालाना और आमागढ़ लेपर्ड सफारी, लॉयन सफारी और हाथी सवारी के रूप में कई विकल्प हैं। इसलिए शहर को सफारिस्तान भी कहा जाए तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। वन विभाग अब सैलानियों को जल्द ही एक ओर लेपर्ड सफारी की सौगात देने जा रहा है। जानकारी के अनुसार नाहरगढ़ अभयारण्य में बीड़ पापड़ और मायलाबाग दो रूट निर्धारित किए हैं। यहां सफारी के लिए तकरीबन 15 किमी का ट्रेक होगा। 

इन एनिमल्स का मूवमेंट
वन विभाग की नाहरगढ़ अभयारण्य में कराई वन्यजीव गणना के आंकड़ों के अनुसार यहां विभिन्न प्रजातियों के एनिमल्स का मूवमेंट देखने को मिलता है।

नाहरगढ़ अभयारण्य में सफारी के लिए बीड़ पापड़ और मायलाबाग दो रूट देखे गए हैं। ऐसे में सैलानियों को जल्द कुछ महीनों बाद जयपुर में एक ओर सफारी करने का मौका मिलेगा।
- शिखर अग्रवाल, प्रमुख शासन सचिव, वन एवं पर्यावरण

Read More जख्मों की परवाह किए बगैर खेला हाईदोस

Post Comment

Comment List

Latest News