रपट की ऊंचाई कम होने से जान जोखिम में डाल निकलने को मजबूर ग्रामीण

भटगांव के मुख्य रास्ते पर है रपट: तेज बहाव से बड़े कस्बों से कट जाता है संपर्क ,बना रहता है हादसे का अंदेशा

रपट की ऊंचाई कम होने से जान जोखिम में डाल निकलने को मजबूर ग्रामीण

हरनावदाशाहजी क्षेत्र के नदी-नालों पर बनी बरसों पुरानी कम ऊंचाई की रपटों पर बारिश में आज भी ग्रामीण जान जोखिम में डालकर आवागमन करने को मजबूर है। गांवों के विकास के सरकार के तमाम दावों के बीच आज भी बारिश के दिनों में ग्रामीणों की आवागमन की राह आसान नहीं है।

हरनावदाशाहजी। हरनावदाशाहजी क्षेत्र के नदी-नालों पर बनी बरसों पुरानी कम ऊंचाई की रपटों पर बारिश में आज भी ग्रामीण जान जोखिम में डालकर आवागमन करने को मजबूर है। गांवों के विकास के सरकार के तमाम दावों के बीच आज भी बारिश के दिनों में ग्रामीणों की आवागमन की राह आसान नहीं है। क्षेत्र के नदी-नालों पर बनी बरसों पुरानी कम उंचाई की रपटों पर बारिश में आज भी ग्रामीण जान जोखिम में डालकर आवागमन करने को मजबूर है। बरसों पुरानी रपटों की ऊंचार्ई कम होने से नदी और बरसाती नालों में पानी की आवक होते ही कई गांवों का संपर्क बड़े कस्बों से कट जाता है। वहीं, ज्यादा जरूरत पर लोग जान जोखिम में डालकर आवागमन करते हैं। छीपाबडौद तहसील की कुम्भाखेड़ी ग्राम पंचायत के गांव भटगांव, पाटड़ी, टांडा व दर्ज़नों बंजारा बस्ती को जोड़ने वाली रपट पर महीनों तक पानी की चादर चलती रहती है। ग्रामीण जान जोखिम में डाल कर रपट पार करते हैं। भटगांव की इस रपट पर आए दिन ग्रामीण, स्कूल के बच्चे फिसल जाते हैं। आमजन के साथ साथ जानवरों का भी रपट पार करना मुश्किल हो रहा है। कई गांव तो ऐसे है कि जहा बरसों से कोई विकल्प नहीं है। मजबूरन लोगों को रपट पर बहते पानी के बीच आवागमन करना पड़ रहा है। ग्रामीण रवि मीणा, मेशराज मीणा, दिनेश मीणा ने बताया कि ज्यादा बारिश में नाले में पानी की ज्यादा आवक होती है। इस रपट के मोखे भी छोटे हैं। रपट के उपर पानी रहने से फिसलन भी ज्यादा हो रही है। ग्रामीण मेशराज मीणा ने बताया कि रपट काफी नीची है और रपट में बने मोखे खोखले हो चुके हैं। कभी भी हादसा हो सकता है। प्रशासन को इस ओर ध्यान देने की आवश्यकता है। बजरंगलाल मीणा ने बताया कि यह रपट दर्जनों छोटे बड़े गांव ओर टांडा बस्तियों को जोड़ने वाला मुख्य मार्ग है इस पर उंची पुलिया बनवाने की सख्त जरूरत है। भटगांव में मुख्य मार्ग पर बनी पुलिया काफी नीची है।

हल्की बरसात शुरू होते ही इस पर पानी की चादर चलने लगती है। जिससे फिसलने की समस्या बनी हुई है। आए दिन पैदल चलने वाले ओर दुपहिया वाहन फिसल कर गिर जाते हैं। -दिनेश मीणा, ग्रामीण भटगांव।

इस रपट पर कई बार स्कूल के बच्चे गिर जाते हैं, जिनको आस-पास के किसानों द्वारा बाहर निकाला गया है। समस्या गंभीर है। - कमल मीणा, ग्रामीण, भटगांव।

Read More शादी की तैयारियों के बीच मेरिज गार्डन पहुंचा भारी भरकम मगरमच्छ, मचा हड़कम्प

इस रपट की समस्या के लिए कई बार स्थानीय ग्राम पंचायत को अवगत करा दिया है, लेकिन समाधान नहीं किया गया। - रिंकू मीणा ग्रामीण, भटगांव।

भटगांव पुलिया रपट के बारे में संबंधित विभाग को अवगत करा दिया गया है। ग्राम सभा में प्रस्ताव लेकर संबंधित विभाग को प्रेषित किया जाएगा। - कल्याणीबाई भील, सरपंच, ग्राम पंचायत कुम्भाखेड़ी।

विधायक प्रतापसिंह सिंघवी और प्रधान नरेश कुमार मीणा को क्षैत्र की सड़कों ओर उन पर बनी पुलियाओं के सुधार हेतु अवगत कराया है। - बाबूलाल भील, सरपंच प्रतिनिधि, कुम्भाखेड़ी।

Read More रावण के पुतले को कंकड़ मारने पहुंचे लोग, पुलिस ने की समझाइश

Post Comment

Comment List

Latest News

सोनिया की मौजूदगी से भारत जोड़ो यात्रा को मिलेगी मजबूती : राहुल-प्रियंका सोनिया की मौजूदगी से भारत जोड़ो यात्रा को मिलेगी मजबूती : राहुल-प्रियंका
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जी भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुईं। इससे पहले कांग्रेस संचार विभाग के प्रभारी जयराम रमेश...
फकीर आदमी हूं, मेरे यहां धेला नहीं मिलेगा और चुनाव में अखिलेश-जयंत की मदद करूंगा: सत्यपाल मलिक
बॉन्ड नीति के विरोध में रेजिडेंट डॉक्टर्स का अस्पतालों में पूर्णतया कार्य बहिष्कार
पूर्व पुलिसकर्मी ने चाइल्ड केयर सेंटर में की फायरिंग, 23 बच्चों समेत 34 लोगों की मौत
भारत में निर्मित कफ सिरप पीने से गाम्बिया में 66 बच्चों की मौत, डब्ल्यूएचओ ने दी चेतावनी
देश में कोरोना के 2,529 नए मामले आए सामने 
ये लक्षण करते हैं फैटी लीवर की ओर इशारा, हो जाएं सतर्क