इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना में मिले मोबाइल में लगी आग

21 हजार की नगदी सहित कीमती कपड़े भी जले

इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना में मिले मोबाइल में लगी आग

राज्य सरकार की इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना के तहत मिले एक मोबाइल फोन में शुक्रवार को अचानक शॉर्ट सर्किट होने से आग लग गई।

अजमेर। राज्य सरकार की इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना के तहत मिले एक मोबाइल फोन में शुक्रवार को अचानक शॉर्ट सर्किट होने से आग लग गई। इससे मोबाइल व उसके चार्जर सहित 21 हजार रुपए की नगदी और अलमारी में रखे कुछ कपड़े भी जल गए। पीड़ित परिवार का कहना है कि मुफ्त में मिला मोबाइल बहुत महंगा पड़ गया। फिलहाल वह हादसे से हुए नुकसान के मुआवजे की मांग कर रहे है। 

हादसा महाराणा प्रताप नगर, कोटड़ा निवासी अन्नू देवी यादव पत्नी राजपाल सिंह के घर हुआ है। उसने बताया कि पिछले माह 23 अगस्त को उन्हें राज्य सरकार की इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना के तहत जवाहर रंगमंच में मोबाइल फोन मिला था। जिसे पाकर वह बहुत खुश हुई थीं। वह फोन को बड़े ही संभालकर रखती थीं। आज भी जब काम पर गई तो मोबाइल फोन व उसका चार्जर अलमारी में रखकर गर्इं थीं। कुछ समय बाद में अलमारी से तेजी से धुआं निकल रहा था। उस दौरान अन्नू का बेटा अनुराग घर में था। उसने तुरंत मां को फोन कर अलमारी से धुआं निकलने की जानकारी दी। कुछ देर में अन्नू ने घर पहुंच कर अलमारी खोलकर देखा तो अन्दर आग लग रही थी। तुरंत परिजन ने मिलकर पानी फेंक कर कुछ देर में आग पर काबू पा लिया। पीड़ित परिवार का आरोप है कि जब उन्होंने देखा तो मोबाइल जला हुआ था। उसका चार्जर भी जल गया था। आग लगने के कारण मोबाइल के पास ही अलमारी में रखी 21 हजार रुपए की नगदी व कुछ कीमती कपड़े भी जलकर खराब हो गए।

सरकार से मुआवजे की मांग  

अन्नू के देवर गोविन्द यादव ने सरकार से मांग की है कि मोबाइल हादसे से गरीब विधवा महिला का जो नुकसान हुआ है। सरकार उसकी भरपाई करे। साथ ही मोबाइल कंपनी से मोबाइलों को अच्छे से चैक कराए। जिससे किसी और गरीब के साथ कोई हादसा नहीं हो।

Read More सिर्फ एक बार ही नहीं, लगातार हों नालों की सफाई: महापौर मुनेश

Post Comment

Comment List

Latest News