दिया कुमारी ने गोगामेड़ी हत्याकांड़ की उच्च स्तरीय जांच की मांग की

दिया कुमारी ने गोगामेड़ी हत्याकांड़ की उच्च स्तरीय जांच की मांग की

उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस शासन के पिछले पांच वर्षों में कानून व्यवस्था ठप और गैंगवार जैसी घटनाएं आम बात हो चुकी हैं। प्रदेश में न आम आदमी सुरक्षित रहा और न ही महिलाएं।

जयपुर। सांसद एवं जयपुर के विद्याधरनगर क्षेत्र से नवनिर्वाचित विधायक दिया कुमारी ने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग करते हुए कहा है कि आरोपियों को फांसी की सजा होनी चाहिए। 

दिया कुमारी ने कहा कि इस मामले को फास्ट ट्रैक में लेकर आरोपियों को फांसी की सजा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब तक आरोपियों को कड़ी सजा नहीं मिलेगी, तब तक ऐसी वारदातें होती रहेंगी। उन्होंने युवाओं से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि प्रशासन अपनी कार्रवाई कर रहा है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में पुलिस महानिदेशक और कमिश्नर से घटना को लेकर जानकारी ली गई है। उन्होंने आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

दिया कुमारी ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार कानून व्यवस्था संभालने में पूरी तरह से असफल रही और यह घटना भी उसी का परिणाम है। उन्होंने कहा कि गोगामेड़ी के सुरक्षा मांगने पर भी प्रदेश सरकार से उन्हें सुरक्षा प्रदान नहीं की। उन्होंने ऐसी घटना का अंदेशा एक इंटरव्यू के दौरान भी जताया था, उसके बावजूद सरकार का ऐसा रवैया बहुत निंदनीय है। 

उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस शासन के पिछले पांच वर्षों में कानून व्यवस्था ठप और गैंगवार जैसी घटनाएं आम बात हो चुकी हैं। प्रदेश में न आम आदमी सुरक्षित रहा और न ही महिलाएं। इसका नतीजा कांग्रेस सरकार को इन चुनावों के दौरान मिला जहां जनता ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया। 

Read More दुबई जाने वाली फ्लाइट रद्द, यात्रियों ने किया हंगामा

Post Comment

Comment List

Latest News

छत्तीसगढ़ कोल ब्लॉक पर दोनों सीएम के बयानों से विरोधाभास: गहलोत छत्तीसगढ़ कोल ब्लॉक पर दोनों सीएम के बयानों से विरोधाभास: गहलोत
इस मुद्दे पर गुमराह कर रहे हैं या दोनों मुख्यमंत्री मिलकर अपने-अपने राजनीतिक हितों के अनुरूप जनता को गुमराह कर...
RPF ने पिछले 7 वर्षों में 'ऑपरेशन नन्हे फरिश्ते' के तहत 84,119 बच्चों को बचाया
सुस्त निवेश से 10 वर्ष में घाटी आर्थिक विकास की रफ्तार : कांग्रेस
आतंकी हमलों की रोकथाम के लिए केंद्र करे गम्भीरता से प्रयास: गहलोत
बड़ी बड़ी बातें नहीं कर केन्द्र आतंकियों के खिलाफ करें सख्त कार्यवाही: डोटासरा
जयपुर संभाग में हुआ 9 लाख 92 हजार से ज्यादा वृक्षारोपण
औषधि के उच्च मानक तय करना जरूरी, विश्व स्तरीय विनियामक ढांचे की आवश्यकता है: नड्डा