'शूटर दादी' चंद्रो तोमर के नाम से जाना जाएगा नोएडा शूटिंग रेंज, योगी सरकार ने की घोषणा

'शूटर दादी' चंद्रो तोमर के नाम से जाना जाएगा नोएडा शूटिंग रेंज, योगी सरकार ने की घोषणा

उत्तर प्रदेश के नोएडा में स्थापित शूटिंग रेंज को अब प्रख्यात निशानेबाज चंद्रो तोमर के नाम से जाना जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 'कू' एप के माध्यम से यह जानकारी दी। उन्होने लिखा कि ख्यातिलब्ध निशानेबाज चन्द्रो तोमर जी जीवटता, जिजीविषा और नारी सशक्तिकरण की अप्रतिम प्रतीक हैं। हाल ही में उनका देहावसान हुआ है। उनके नाम पर शूटिंग रेंज का नामकरण युवाओं के लिए प्रेरणादायी सिद्ध होगा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के नोएडा में स्थापित शूटिंग रेंज को अब प्रख्यात निशानेबाज चंद्रो तोमर के नाम से जाना जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 'कू' एप के माध्यम से यह जानकारी दी। उन्होने लिखा कि ख्यातिलब्ध निशानेबाज चन्द्रो तोमर जी जीवटता, जिजीविषा और नारी सशक्तिकरण की अप्रतिम प्रतीक हैं। हाल ही में उनका देहावसान हुआ है। मातृ शक्ति को नमन करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के 'मिशन शक्ति' अभियान के क्रम में यह एक प्रयास है। उनके नाम पर शूटिंग रेंज का नामकरण युवाओं के लिए प्रेरणादायी सिद्ध होगा

गौरतलब है कि शूटर दादी के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर का पिछली अप्रैल को कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से मेरठ के एक अस्पताल में निधन हो गया था। वह 89 वर्ष की थी। 60 वर्ष की उम्र से निशानेबाजी में हाथ आजमाने वाली दुनिया की सबसे बुजुर्ग शूटर ने कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक जीते हैं। बागपत जिले की निवासी इस शूटर के जीवन पर बॉलीवुड में सांड की आंख नामक फिल्म भी प्रदर्शित हुई थी, जिसे भरपूर सफलता मिली थी।

Post Comment

Comment List

Latest News

चीन में फिर कोरोना का कहर, शीआन शहर में लगा एक सप्ताह का लॉकडाउन चीन में फिर कोरोना का कहर, शीआन शहर में लगा एक सप्ताह का लॉकडाउन
बीजिंग। चीन के शीआन शहर में कोरोना वायरस महामारी के ओमिक्रोन वेरिएंट के नए स्वरूप के तेजी से फैलने के...
अब वार्ड वार लगेंगे प्रशासन शहरों के संग अभियान शिविर
रिश्वतखोर पटवारी को 3 साल की सजा , 50000 रुपए जुमार्ना
कन्हैयालाल हत्याकांड सरकार की तुष्टीकरण की नीति का है परिणाम : पूनिया
पर्यटन को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से करे प्रचारित : सिंह
ईआरसीपी पर गुमराह कर रहे हैं मुख्यमंत्री, सब चाहते हैं योजना को मंजूरी मिले :राठौड़
रिफाइनरी की तरह ईआरसीपी पर भी जनता की आवाज सुननी पड़ेगी, हम योजना बंद नहीं करेंगे: गहलोत