BCCI ने 29 मई को बुलाई आपात SGM, टी-20 विश्व कप के आयोजन और आगामी क्रिकेट सत्र पर होगी चर्चा

BCCI ने 29 मई को बुलाई आपात SGM, टी-20 विश्व कप के आयोजन और आगामी क्रिकेट सत्र पर होगी चर्चा

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने टी-20 विश्व कप के आयोजन और आगामी क्रिकेट सत्र पर चर्चा के लिए 29 मई को आपात विशेष आम बैठक (एसजीएम) बुलाई है। बैठक वर्चुअल रूप से आयोजित की जाएगी। बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने राज्य क्रिकेट संघों को भेजे नोटिस में कहा कि सभी को बीसीसीआई की विशेष आम बैठक (एसजीएम) की सूचना दी जाती है, जो 29 मई 2021 को बुलाई गई है।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने टी-20 विश्व कप के आयोजन और आगामी क्रिकेट सत्र पर चर्चा के लिए 29 मई को आपात विशेष आम बैठक (एसजीएम) बुलाई है। बैठक वर्चुअल रूप से आयोजित की जाएगी। बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने राज्य क्रिकेट संघों को भेजे नोटिस में कहा कि सभी को बीसीसीआई की विशेष आम बैठक (एसजीएम) की सूचना दी जाती है, जो 29 मई 2021 को बुलाई गई है। बैठक का विषय देशभर में व्याप्त महामारी की स्थिति को देखते हुए आगामी क्रिकेट सत्र पर चर्चा करना है। आपसे आग्रह है कि बैठक में शामिल हों। ऑनलाइन बैठक से जुड़ने का लिंक नियत समय पर साझा किया जाएगा। हालांकि नोटिस में बैठक के स्वरुप के विवरण का उल्लेख नहीं किया गया है।

आपात बैठक में टी-20 विश्व कप के बारे में चर्चा हो सकती है, जिसका बीसीसीआई की ओर से अक्टूबर-नवंबर में आयोजन किया जाना है। समझा जाता है अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को टी-20 विश्प कप के लिए स्टैंडबाय आयोजन स्थल के रूप में रखा है। वहीं इस महीने की शुरुआत में आईपीएल के बीच में ही स्थगित होने के बाद से बीसीसीआई की ओर से टी-20 विश्व कप की मेजबानी के दावे फीके पड़ते नजर आ रहे हैं। एसजीएम में स्थगित आईपीएल का दोबारा आयोजन विषय भी शामिल हो सकता है, लेकिन ज्यादा उम्मीद एक विशिष्ट विषय पर चर्चा की है।

Post Comment

Comment List

Latest News

चीन में फिर कोरोना का कहर, शीआन शहर में लगा एक सप्ताह का लॉकडाउन चीन में फिर कोरोना का कहर, शीआन शहर में लगा एक सप्ताह का लॉकडाउन
बीजिंग। चीन के शीआन शहर में कोरोना वायरस महामारी के ओमिक्रोन वेरिएंट के नए स्वरूप के तेजी से फैलने के...
अब वार्ड वार लगेंगे प्रशासन शहरों के संग अभियान शिविर
रिश्वतखोर पटवारी को 3 साल की सजा , 50000 रुपए जुमार्ना
कन्हैयालाल हत्याकांड सरकार की तुष्टीकरण की नीति का है परिणाम : पूनिया
पर्यटन को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से करे प्रचारित : सिंह
ईआरसीपी पर गुमराह कर रहे हैं मुख्यमंत्री, सब चाहते हैं योजना को मंजूरी मिले :राठौड़
रिफाइनरी की तरह ईआरसीपी पर भी जनता की आवाज सुननी पड़ेगी, हम योजना बंद नहीं करेंगे: गहलोत