ओवरलोड वाहनों के चलते संपर्क सड़कें हुई जर्जर

सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे होने से आए दिन हो रही हैं दुर्घटनाएं

ओवरलोड वाहनों के चलते संपर्क सड़कें हुई जर्जर

मुख्य संपर्क सड़क इन दिनों पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है। बड़े-बड़े गड्ढों के कारण दोपहिया वाहन चालकों के साथ ही चार पहिया वाहन चालक हादसों का शिकार हो रहे है।

सुल्तानपुर। क्षेत्र में भारत माला प्रोजेक्ट के तहत चल रहे 8 लाइन एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य के दौरान सुल्तानपुर नगर से झोटोली गांव में जा रही मुख्य संपर्क सड़क इन दिनों पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है। जिसके कारण इस मार्ग पर आए दिन लोगों को दुर्घटनाओं का शिकार होना पड़ रहा है। सड़क जगह-जगह से गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। जिसके कारण लोगों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बड़े-बड़े गड्ढों के कारण दोपहिया वाहन चालकों के साथ ही चार पहिया वाहन चालक हादसों का शिकार हो रहे है। गड्ढों के कारण वाहन क्षतिग्रस्त होते रहते हैं। जिससे वाहन चालकों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। 

अंडरपास भी बना परेशानी का सबब
राहगीरों ने बताया कि अंडरपास सड़क से नीचा होने के कारण उसमें बारिश के दिनों में पानी भर गया। जिससे राहगीरों व वाहन चालकों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। पानी भरने से उसमें कीचड़ भी हो गया है। अंडरपास बनाते समय पानी की सुचारू निकासी नहीं होने के कारण उसमें से पानी नहीं निकल पा रहा है। पानी निकालने की खानापूर्ति के लिए अंडरपास के समय जेसीबी की सहायता से नालों का निर्माण किया गया था। लेकिन उन्हें सुचारू रूप से नहीं बना पाने के कारण पानी नहीं निकलने से अंडरपास में पानी भरा रहता है। जिसके चलते पैदल राहगीरों व बाइक सवारों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। 

श्रद्धालुओं को करना पड़ता है समस्या का सामना
लोगों ने बताया कि इसी मार्ग से होकर हिंदू मुस्लिम एकता के प्रतीक बाबा मानशाह वली की दरगाह पर जाने वाले श्रद्धालुओं को भी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही इसी मार्ग से होकर नैनवां-दूदू-हाइवे भी जुड़ता है। 

अधिकारियों को कराया था अवगत
झोटोली गांव के ग्रामीणों ने अंडरपास बनाते समय 8 लाइन के अधिकारियों को इस समस्या से अवगत कराया था। लेकिन उन्होंने लोगों की एक नहीं सुनी और अंडरपास का निर्माण कर दिया। यह अंडरपास सड़क से करीब 2-3 फीट नीचे होने के कारण उसमें बारिश का पानी भरने लगा है। ग्रामीणों ने बताया कि समय रहते समस्या का समाधान नहीं हुआ तो गांव का संपर्क भी नगर पालिका से कट सकता है। जबकि नगर पालिका बनने के बाद से झोटोली गांव नगर पालिका क्षेत्र में ही आ रहा है। 

Read More Parks में गिरे पेड़ के पत्तों से तैयार किया जा रहा है जैविक खाद

दोबारा एस्टीमेट बनाकर कराएंगेअच्छा काम
इस मामले में पीडब्ल्यूडी के एईएन कमल मीणा ने कहा कि सड़क के पूर्व में टेंडर भी कराए जा चुके थे। लेकिन बड़े वाहनों के कारण रोड पूरी तरह से खत्म हो चुकी है। इस कारण ठेकेदार द्वारा पुरानी दर पर काम नहीं किया जा रहा है। इसके लिए विभाग द्वारा दोबारा एस्टीमेट बनाकर अच्छा काम कराया जाएगा। इसके लिए उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। 

Read More मोदी 3.0 टीम के 99 फीसदी मंत्री हैं करोड़पति

इनका कहना है

Read More जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे

भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत चल रहे आठ लाइन निर्माण कार्य के दौरान गांव को जोड़ने के लिए अंडरपास बनाया गया था। अंडरपास बनाते समय उसमें सुचारू पानी की निकासी नहीं होने से लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जिस समय अंडरपास का निर्माण कार्य शुरू हुआ था, उस समय भी लोगों ने आंदोलन करते हुए पानी भरने की समस्या बताई थी। लेकिन उस समय लोगों को पानी निकासी की सुचारू व्यवस्था करने का आश्वासन दिया गया था। साथ ही गांव को सुल्तानपुर नगर से जोड़ने वाली सड़क पर भी जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे होने के कारण आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं है। जगह-जगह पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं। जिससे बड़े हादसे होने की आशंका है।
-राजू गुर्जर, निवासी, झोटोली 

पैदल यात्रियों को आवागमन में सबसे अधिक समस्या का सामना करना पड़ रहा है। राहगीरों को गड्ढों में हो कर गुजरना पड़ता है। साथ ही गड्ढों में जब पानी भरा होता है तो उन्हें अपने कपड़े गंदे होने का भी डर रहता है।
-रवि शर्मा, श्रद्धालु  

बाबा मान शाह वली दरगाह हिंदू मुस्लिम एकता का प्रतीक है। जहां पर गुरुवार को श्रद्धालुओं का जमावड़ा रहता है। यहां पर हिंदू मुस्लिम सभी लोग दर्शन करने के लिए आते हैं। ऐसे में आस्था की डगर मुश्किल हो गई है। वाहन चालकों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। यहां तक कि कई वाहन चालकों के वाहन तो खराब भी हो चुके हैं। वाहन गड्ढे में गिरने से उन्हें आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ा है। 
-अब्दुल जाकिर, सुरेश बैरवा, श्रद्धालु

दरगाह पर प्रत्येक गुरुवार को बड़ी संख्या में श्रद्धालु पैदल एवं अपने वाहनों से आते हैं। पानी एवं कीचड़ भरा होने के कारण अंडरपास से गुजरते हुए लोगों के कपड़े गंदे हो जाते हैं। जिससे उन्हें परेशानियां होती हैं। हिंदू मुस्लिम एकता की प्रतीक दरगाह पर पहुंचने के लिए इसी मार्ग से होकर गुजरना पड़ता है। साथ ही दरगाह तक जाने वाला मार्ग काफी दुर्गम हो चुका है। जगह-जगह गड्ढे होने के कारण पैदल चलने में भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
-मांगीलाल उर्फ मांगू अली, सदर, बाबा मानशाह वली दरगाह 

एनएचआई द्वारा 8 लाइन का कार्य कराया जा रहा है। जिसके साथ ही अंडरपास बनाया गया था। उसका कार्य भी एनएचआई द्वारा ही कराया जाएगा।
-कमल मीणा, एईएन, पीडब्ल्यूडी

इस मामले में एनएचआई डिपार्टमेंट को कई बार अवगत करा दिया गया है कि भारत माला प्रोजेक्ट के तहत बड़े वाहनों के कारण सड़क क्षतिग्रस्त हुई है। उसकी मरम्मत कराई जाए। क्योंकि सड़क की स्वीकृति हो चुकी है। सड़क की मरम्मत करने के बाद उसे दुरुस्त करा दिया जाएगा।
-हुकुमचंद मीणा, एक्सईएन, पीडब्ल्यूडी  

Post Comment

Comment List

Latest News

जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने महात्मा गांधी जन भागीदारी विकास योजना में 33 जिलों को 20 करोड़ रुपए का...
संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को
NDA Government राजस्थान पर मेहरबान, केंद्र ने राज्य को जारी किए 8421.38 करोड़
बाड़मेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस रेलसेवा एलएचबी रैक से संचालित होगी
राज्यवर्धन ने सूचना सहायक पदों की संख्या बढ़ाई
कांग्रेस ने आंध्रप्रदेश के विशेष दर्जे पर मोदी से मांगा स्पष्टीकरण
सीएम को लिखा पत्र : निकायों का पुनः परिसीमांकन एवं वार्डों की संख्या के निर्धारण का कार्य पारदर्शी तरीके से हो: राजेंद्र राठौड़